International Yoga Day 2022:अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस कल और क्या हैं इस साल की थीम??

International Yoga Day 2022:अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस 2022

दुनिया भर में भारत समेत कल यानी  21 जून को 8 वां International Yoga Day मनाया जाएगा। इस में दुनियाभर के लोग योग करते हैं और योग के प्रति जन मानस में जागरुकता फैलाने की कोशिश करते हैं। शरीर को निरोगी रखने के लिए योग बहुत ही जरूरी हैं और योग करने से मनुष्य की स्वष्ठ्यता बनी रहती है, साथ ही फिट रहकर वो लंबे जीवन को प्राप्त करता है।साल 2015 से पूरे विश्व में 21 जून को अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस (International Yoga Day) मनाया जाता है। हर साल योग दिवस की थीम तय की जाती हैं । ‌‍‌‌‍

International Yoga Day 2022 Theme :अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस 2022 की थीम!

योग दिवस पर हर साल विभ्भिन थीम रखी जाती है और इसे लेकर लोग काफी एक्साइटेड भी रहते हैं। आयुष मंत्रालय की ओर से प्राप्त जानकारी के अनुसार इस साल थीम ‘योगा फॉर ह्यूमैनिटी’ (Yoga For Humanity) रखा गया है। जिसका मतलब होता है ,मानवता के लिए योग और इसी थीम को ध्यान में रखते हुए पूरी दुनिया में योग दिवस मनाया जाएगा।

International Yoga Day History:अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस का इतिहास !

भारत के प्रधानमंत्री मोदी ने संयुक्त राष्ट्र संघ की बैठक में योग दिवस मनाने का प्रस्तावन राखी थी। फिर 11 दिसंबर 2014 को इस बात की घोषणा की गई कि हर साल 21 जून को अंतराष्ट्रीय योग दिवस के रूप में हर साल मनाया जाएगा। भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 27 सितंबर 2014 को संयुक्त महासभा में दुनियाभर में योग दिवस मनाने का आह्वान किया और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के प्रस्ताव को संयुक्त राष्ट्र महासभा ने स्वीकार कर लिया। 21 जून को अंतरराष्ट्रीय योग दिवस मनाने का ऐलान किया।इसके पीछे की मुख्य वजह ये है कि, 21 जून को उत्तरी गोलार्द्ध का सबसे लंबा दिन होता है, जिसे लोग ग्रीष्म संक्रांति के नाम से जानते हैं। भारतीय परंपरा के मुताबिक, ग्रीष्म संक्रांति के बाद सूर्य दक्षिणायन होता है और माना जाता है कि सूर्य दक्षिणायन का समय आध्यात्मिक सिद्धियां प्राप्त करने के लिए बहोत ही फायदेमंद है। इसी को देखते हुए योगा दिवस हर साल 21 जून को मनाया जाता है। सबसे पहला अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस साल 2015 के 21 जून को मनाया गया था। 

योग का मानव जीवन में महत्व :

मन की शांति और शरीर के लिए योग बहुत ही जरूरी है। योग करने से शरीर की स्वस्थता बनी रहती है। साथ ही योग से मानव जीवन पर स पॉजिटिव प्रभाव पड़ता है।हररोज योग करने से शारीरिक और मानसिक बीमारियां दूर रहती है। बढ़ते तनाव को कम करने के लिए योग किया जा सकता है। योग करने से शरीर मजबूती बनता है और योग से शारीरिक और मानसिक ऊर्जा में वृद्धि होती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.